डायबिटीज की नई दवा में भी शिकायत

कोटा (राजस्थान)। मुख्यमंत्री निशुल्क दवा योजना की सप्लाई में आई डायबिटीज की नई दवा में भी शिकायत मिली है। यह दवा भी पहले की तरह पानी में नहीं घुल रही। एमबीएस अस्पताल प्रशासन को एक मरीज ने इसकी शिकायत दी है। अब अस्पताल प्रशासन ने मामला मेडिकल कॉलेज ड्रग वेयर हाउस को भेजा है। जेकेलोन अस्पताल में नर्सिंग कर्मचारी रवि चौहान ने बताया कि डायबिटीज रोगी होने से मुझे उक्त दवा नियमित लेनी होती है।
अस्पताल के दवा काउंटर से दवा ली थी। तब से नियमित यह टेबलेट शौच में बिना घुले निकल रही है। चौहान ने इसकी लिखित शिकायत अधीक्षक को दी। साथ ही एक गिलास में टेबलेट घोलकर भी उनके पास लेकर गए, जो 6 घंटे में भी पूरी नहीं घुली थी। गौरतलब है कि गत 29 मई को ड्रग डिपार्टमेंट को इसी दवा की शिकायत मिली थी, जिस पर रामपुरा अस्पताल से दवा का सैंपल भी लिया गया था और विभाग की कार्रवाई के बाद आरएमएससीएल ने उक्त दवा का पूरा बैच होल्ड करवा दिया था। इसके बाद कंपनी ने नया बैच भेजा, लेकिन इस बैच में भी पहले वही शिकायत सामने आई है।
एमबीएस अस्पताल के अधीक्षक डॉ. नवीन सक्सेना ने बताया कि मैंने इस स्थिति पर कुछ डॉक्टरों से चर्चा की तो उनका कहना था कि यह दवा एक्सटेंड रिलीज है, जो बहुत धीरे घुलती है। ऐसा इसलिए किया जाता है कि मरीज का शुगर लेवल मेंटेन रहे। हकीकत क्या है, यह हमारे भी समझ से परे है। हम मेडिकल कॉलेज ड्रग वेयर वालों को लिख रहे हैं कि वे इस पर उचित कार्रवाई करें। उधर, सहायक औषधि नियंत्रक देवेंद्र कुमार गर्ग ने बताया कि पूर्व में भेजे गए सैंपल की रिपोर्ट अभी नहीं मिली है। नए बैच की शिकायत हमारे पास नहीं आई। यदि इस तरह की बात है तो इस बैच का भी सैंपल लेंगे।
Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here