नर्से करेंगी वर्कसस्पेंड

रोहतक। अगर आज व कल आप पीजीआईएमएस मे इलाज के लिए आ रहे हैं तो जरा ध्यान से आईएगा, क्योंकि पीजीआईएमएस की स्टाफ नर्सें एक हफ्ते पहले अधिकारियों को दिए अल्टीमेटम के अनुसार 13 व 14 मार्च को दो घंटे वर्कसस्पेंड रखेंगी,मरीजों के हितों को देखते हुए एमरजेंसी सेवाएं पूर्णरूप से चालू रखी जाएंगी। सोमवार को हुई स्टाफ नर्सों की जनरल बॉडी की मिटिंग मे सभी ने एक स्वर मे वर्क सस्पेंड की हॉमी भरी वहीं भविष्य मे अपनी मांगों को पूरा करवाने के लिए बडे स्तर पर प्रर्दशन करने पर जोर दिया।

पीजीआईएमएस नर्सिंग एसोसिएशन के प्रधान अशोक यादव ने बताया कि उनकी स्टाफ नर्सें 13 व 14 मार्च को दोपहर 11 बजे से 1 बजे तक दो घंटे का वर्कसस्पेंड रखेंगी। इस दौरान सैकडों की संख्या मे स्टाफ नर्सें चिकित्सा अधीक्षक कार्यालय के बाहर एकत्रित होंगी और प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी करेंगी। अशोक यादव ने कहा कि इसके चलते यदि मरीजों को कोई परेशानी होती है तो उसके लिए हरियाणा सरकार व पीजीआई प्रशासन जिम्मेदार होगा।

अशोक यादव ने बताया कि वें पिछले एक वर्ष से अधिक समय से सरकार से अपना वेतनमान बढवाने के लिए शांतिपूर्ण ढंग से प्रयास कर रहे थे, लेकिन सरकार ने इसे उनकी कमजोरी समझ लिया और अभी तक उनकी मांगों को पूरा नही किया। आज तक उनकी मांगें पूरी नहीं हुई, उसके पीछे सबसे बडा कारण यहां के अधिकारियों की लापरवाही है। इसके चलते स्टाफ नर्सों मे भारी रोष व्याप्त था और उन्होंने सरकार को सांकेतिक चेतावनी देने के लिए सात दिन तक काले बिल्ले लगाकर रखे थे, लेकिन किसी ने उनकी मांग को पूरा नहीं किया।

अशोक यादव ने बताया कि उनकी मांग है कि उन्हें 4600 ग्रेड पे के साथ-साथ, वर्दी भत्ता,नर्सिंग अलांउस केंद्र की तर्ज पर तो दिया ही जाए इसके साथ ही उनकी मांग है कि जिस चीज मे सरकार की एक चवन्नी तक खर्च नही होनी उस नर्सिंग अफसर पदनाम को बदलने की मांग को भी सरकार ने ठंडे बस्ते मे डाल रखा है।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here