दवा उद्योग के लिए खुशखबरी

इंदौर। मध्यप्रदेश के इंदौर से दवा उद्योग के लिए अच्छी खबर है। अब प्रदेश के छोटे दवा उद्योगों की मदद के लिए एक एडवाइजरी बोर्ड बनेगा। इसका ऐलान खुद केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा ने किया है जब वो दवा उद्योगों की समस्याओं को लेकर पहुंची लघु उद्योग भारती की टीम से मिले।

लघु उद्योग भारती के राष्ट्रीय अध्यक्ष जितेंद्र गुप्ता समेत एक टीम ने दिल्ली में जेपी नड्डा के साथ ड्रग कंट्रोल जनरल ऑफ इंडिया से दवा उद्योगों की समस्याओं को लेकर चर्चा की।

इस बैठक के दौरान केंद्रीय स्वास्थय मंत्री को बताया गया कि गलत नीतियों के चलते प्रदेश का दवा उद्योग बंद होने की कगार पर है। प्रदेश में दवा निर्माण का लाइसेंस केवल उन्हीं को मिलता है, जिनकी लिस्ट डीसीजेआई की लिस्ट में है, जबकि अन्य प्रदेशों में निर्माता द्वारा चाही गई दवा के निर्माण की अनुमति भी मिलती है।

लघु उद्योग भारती के प्रदेश अध्यक्ष महेश गुप्ता ने बताया कि बैठक से प्रदेश के दवा उद्योग को काफी राहत मिलने की उम्मीद है। इसके लिए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री के साथ लघु दवा उद्योग निर्माताओं की एक बैठक भी होगी, जिसकी सहमति भी मंत्री ने दे दी है।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here