दवा जलाने के मामले की जांच शुरू

रायसेन। पशु चिकित्सालय में पेट्रोल डालकर दवाइयां जलाने के मामले में जांच शुरू हो गई है। भोपाल से बनाए गए पांच सदस्यीय दल ने तीसरे स्टोर में रखी दवाइयों की सूची बनाई। दो दिनों में यह दल दो और स्टोर में रखी दवाइयों की सूची बना चुका है। इन सूचियों का मिलान स्टॉक रजिस्टर से किया जाएगा। उसके बाद ही गोलमाल की बात सामने आ पाएगी।
गौरतलब है कि एक साल पहले निर्देश जारी करने के बाद भी शिवमंगलसिंह तोमर ने यह प्रभार डॉ. मंजू टोप्पो को नहीं सौंपा। तोमर ने तीन गोदामों में ताला डालकर उन पर कब्जा जमाए रखा। पिछले दिनों पेट्रोल डालकर दवाइयां जलाने का मामला सामने आया। इसके बाद जांच शुरू हो गई। बताया जा रहा है कि तोमर पिछला रिकॉर्ड जमा कराने तैयार नहीं थे। जिले में पशु चिकित्सालय के तहत 92 केंद्र आते हैं। इनके लिए हर साल करीब 50 लाख रुपए की दवाइयों की खरीदी जिला स्तर पर ही की जाती है। लेकिन इसका वितरण सही ढंग से नहीं किया जाता।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here