शर्तिया लड़का पैदा करने की दवा पर भंडाफोड़

हिसार। हरियाणा के हिसार से स्वास्थ्य विभाग की टीम ने बड़ा खुलासा किया है, जिसनें शहर के साथ प्रदेश में सनसनी फैला दी है। विभाग की टीम ने हांसी के आर्य नगर में रहने वाली 60 वर्षीय उर्मिला शर्मा को शर्तिया लड़का पैदा होने का दावा कर दवा बेचते हुए रंगे हाथ गिरफ्तार किया है।

बताया गया है कि इस मामले का भंडाफोड़ करने के लिए विभाग की तरफ से गर्भवती महिला को एक गवाह के साथ बोगस ग्राहक बनाकर भेजा गया। जब बोगस ग्राहक महिला के पास गए और उससे लड़का पैदा होने की दवा मांगी, तब उक्त महिला ने उन्हें पुड़िया में दवा देकर कहा कि यह खाने से 100 फीसद लड़का ही पैदा होगा। इस दवा के एवज में उनसे 1000 रुपये लिए गए। चूंकि फर्जीवाड़े की पुष्टि हो चुकी थी तो बोगस ग्राहकों ने विभाग की टीम को इशारा कर दिया और फिर पुलिस के साथ टीम ने आवास पर छापा मारकर महिला को दवा सहित काबू कर लिया।

स्वास्थ्य अधिकारियों की शिकायत पर आरोपी महिला के खिलाफ स्थानीय पुलिस थाने में पीसी-पीएनडीटी और आइएमसी एक्ट सहित धोखाधड़ी का केस दर्ज कर लिया गया है।

बता दे कि हरियाणा सरकार में अतिरिक्त प्रधान सचिव राकेश गुप्ता के निर्देशानुसार स्वास्थ्य विभाग की टीम ने बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ की मुहिम के तहत कार्रवाई को अंजाम दिया है। गुप्त सूचना मिली थी कि वृद्ध महिला द्वारा शर्तिया लड़का पैदा होने की दवा बेची जाती है। इसके बाद यह मामला जिला उपायुक्त और सीएमओ के संज्ञान में लाया गया था। उन्होंने डिप्टी सीएमओ डॉ टीपी शर्मा के नेतृत्व में टीम का गठन किया था। इसमें पीसी एंड पीएनडीटी के नोडल आफिसर अनिल आहुजा और ड्रग विभाग से डा. सुरेश चौधरी को शामिल किया गया था।

 

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here