दवा और फार्मा से मिला एक्सपोर्ट को बूस्ट

नई दिल्ली। ग्लोबल मार्केट में भारत की दवा और फार्मा प्रोडक्ट्स की डिमांड से फरवरी, 2019 में निर्यात को अच्छा बूस्ट मिला। इसके साथ ही भारतीय निर्यात 2.44 फीसदी बढक़र 26.67 अरब डॉलर के स्तर पर पहुंच गया, जबकि बीते साल फरवरी में यह आंकड़ा 26.03 अरब डॉलर रहा था। सरकार द्वारा जारी ट्रेड डाटा में बताया गया है कि फरवरी, 2019 में इम्पोर्ट के मोर्चे पर भारत को राहत मिली, जो 5.41 फीसदी की गिरावट के साथ 36.26 अरब डॉलर रह गया है, जबकि फरवरी, 2018 में इम्पोर्ट 38.34 अरब डॉलर रहा था।  चालू वित्त वर्ष के पहले 11 महीने यानी अप्रैल-फरवरी, 2018-19 के दौरान कुल निर्यात 8.85 फीसदी की बढ़त के साथ 298.47 अरब डॉलर हो गया है। इससे पिछले वित्त वर्ष की इसी अवधि में यह आंकड़ा 274.21 अरब डॉलर रहा था। इसी अवधि में आयात 422.76 अरब डॉलर से 9.75 फीसदी बढक़र 464 अरब डॉलर के स्तर पर पहुंच गया। आंकड़ों के मुताबिक, फरवरी 2019 में दवा और फार्मा के निर्यात में 16.11 फीसदी, कपड़ा में 7.17 फीसदी, जैविक एवं अजैविक रसायन में 4.14 फीसदी, कपास धागा 2.25 फीसदी और इंजीनियरिंग उत्पादों में 1.73 फीसदी की बढ़त दर्ज की गई। आयात के संदर्भ में मोती, कीमती तथा अर्धकीमती पत्थरों में 17.5 फीसदी, सोने में 10.81 फीसदी, पेट्रोलियम और कच्चा तेल में 8.05 फीसदी, इलेक्ट्रॉनिक्स उत्पादों में 6.48 फीसदी की कमी आई है। आंकडों के अनुसार, फरवरी 2019 में व्यापार घाटा 9.60 अरब डॉलर रहा है जबकि फरवरी 2018 में यह आंकड़ा 12.30 अरब डॉलर था। चालू वित्त वर्ष में 11 महीनों के दौरान व्यापार घाटा 93.32 अरब डॉलर हो गया है जो इससे पिछले वित्त वर्ष की इसी अवधि में 82.46 अरब डॉलर रहा था।
Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here