दवा सप्लाई नहीं करने पर 12 कंपनियां 2 साल के लिए डिबार

नागौर। नि:शुल्क दवा योजना के तहत कंपनियों की ओर से एंटीबायोटिक, डायबिटीज, पार्किंसन, मलेरिया, पेट में कीड़े मारने व चोट लगने के दौरान घाव को भरने वाली जैसी दवाओं की सप्लाई नहीं करने पर 12 कंपनियों को 2 साल के लिए डिबार कर दिया गया है। राजस्थान मेडिकल सर्विसेज लिमिटेड के अनुसार दो साल तक ये कंपनियां कहीं भी टेंडर में शामिल नहीं हो सकेंगी। गौरतलब है कि मरीजों को समय पर दवाएं नहीं मिलने से मुख्यमंत्री की फ्लैगशिप योजना प्रभावित रही। आरएमएससी ने पहली बार कार्यवाही करते हुए इतनी कंपनियां व प्रोडक्ट के लिए डिबार किया है। इसके अलावा मथुरा की एनोन्डिटा हैल्थ केयर के सर्जिकल आइटम दस्ताने (7 इंच) के स्टरलिटी टेस्ट में फेल होने पर एक साल के लिए डिबार किया है। कंपनियों को इससे पहले नोटिस भी दिए गए थे। एमडी सुरेश चंद्र गुप्ता का कहना है कि समय पर दवाओं की आपूर्ति नहीं करने वाली कंपनियों के प्रोडक्ट के लिए डिबार कर दिया है। ये कंपनियां राजस्थान में ही नहीं, देश में कहीं भी उस प्रोडक्ट के लिए टेंडर में शामिल नहीं हो सकेगी।
Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here