ये जिला बना नशीली दवा-इंजेक्शन का हब 

शामली। शामली जिला नशीली दवा व इंजेक्शन का बड़ा हब बन गया है। यहां से नशीली दवा के तार पंजाब तक जुड़े हुए है। कई बार पंजाब पुलिस ने शामली व अन्य कस्बों में इस अवैध कारोबार से जुड़े माफियाओं की धरपकड़ के लिए दबिश भी दी है। बता दें कि शामली की सीमा हरियाणा प्रदेश से सटी हुई है। कुछ ड्रग्स माफियाओं ने शामली जनपद के माफियाओं से मिलीभगत कर रखी है। यह दोनों सिडीकेट हरियाणा, शामली के साथ अन्य क्षेत्रों में भी बड़े पैमाने पर नशीली दवा-इंजेक्शन का धंध कर रहे हंै। शामली से चलाए जा रहे इस अवैध धंधे का उस समय पता चला, जब पंजाब पुलिस ने शामली निवासी एक युवक को लाखों रुपए की नशीली गोलियों के साथ दबोचा और उसने बताया कि वह इन गोलियों को शामली के एक दवा व्यापारी से लेकर पंजाब में सप्लाई के लिए लेकर आया था। पंजाब पुलिस ने कई बार नगर में दबिश दी। मगर इस धंधे से जुड़ा माफिया पकड़ा नहीं जा सका। अब झिझाना में तीन युवकों के शव व उनके पास से नशीले इंजेक्शन का मिलना शामली के नशीली दवा-इंजेक्शन बिक्री का हब होने की इशारा कर रहा है। इस बारे में शामली के एएसपी राजेश श्रीवास्तव ने बताया कि पहले भी नशीले पदार्थों की बरामदगी व इस धंधे से जुड़े माफियाओं की धरपकड़ के लिए अभियान चलाया था। पुलिस ने काफी लोगों को गिरफ्तार भी किया था। झिझाना में तीन युवकों की मौत के मामले में जांच की जा रही है।
Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here