प्रतिबंधित नशीली दवाईयों की 360 बोतल बरामद

रोहतक। पुलिस की सीआईए-2 की टीम ने गत रात्रि गस्त के दौरान कार सवार दो युवको को अवैध रुप से ले जा रहे नशीली दवाईयों की 3 पेटी (कुल 360 बोतल) सहित काबू करने में सफलता प्राप्त की है। आरोपियो के खिलाफ एन.डी.पी.एस. एक्ट के तहत कार्यवाही की गई है। आरोपियों को आज पेश अदालत किया गया है। अदालत के आदेश पर नाबालिग युवक को बाल सुधार गृह हिसार में भेजा गया तथा दुसरे बालिग आरोपी को एक दिन के पुलिस हिरासत रिमांड पर हासिल किया गया है। आरोपी से गहनता से पुछताछ जारी है। प्रतिबंधित दवाईयों के अवैध धंधा में कौन-2 लोग शामिल है इस बारे गहनता से जांच की जा रही है।

अपराध शाखा द्वितीय प्रभारी उप.नि. आजाद सिंह ने बताया कि 10.03.19 को सीआईए-2 की टीम स.उप.नि. बिरेन्द्र सिंह के नेतृत्व में गस्त में आऊटर बाईपास रोहतक पर चमारियां मोड के पास मौजूद थी। गस्त के दौरान एक कार नम्बर DL-1RTA-6583 को रोककर चैक किया गया। कार में सवार युवकों की पहचान गांव भम्भेवा जिला झज्जर निवासी सुमित पुत्र मदनलाल व रोहतक निवासी नाबालिग युवक के रुप में हुई। तलाशी लेने पर कार में तीन पेटी (कुल 360 बोतल) विनसिरेक्स (Wincirex 100 ML each) बरामद हुई। बरामद विनसिरेक्स एन.डी.पी.एस. एक्ट के तहत प्रतिबंधित दवाईयों की श्रेणी में आती है। बरामद बोतलों के संदर्भ में युवक कोई लाईसैंस/परमीट पेश नही कर सके। आरोपियों के खिलाफ थाना शहर में अभियोग संख्या 157/18 अंकित कर गिरफ्तार किया गया है। बरामद बोतलों व कार को कब्जा पुलिस में लिया गया है।

प्रारंभिक जांच में पाया गया कि आरोपी सुमित उम्र 31 साल टैक्सी चलाता है। वारदात में बरामद हुई कार उसके रिश्तेदार के नाम पर है जिसे आरोपी दिल्ली व एनसीआर के ईलाके में टैक्सी के रुप में चलाता है। आरोपी सुमित दिल्ली से प्रतिबंधित विनसिरेक्स की बोतल खरीदकर लाया था। आरोपी को उक्त बोतले अपने नाबालिग साथी को देने थी। नाबालिग युवक उम्र करीब साढ़े 17 साल अवैध रुप से प्रतिबंधित दवाईयों को बेचने का काम करता है।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here