लाइसेंस सस्पेंड होने पर भी खुली हैं दवा दुकानें

झज्जर। स्वास्थ्य विभाग ने जिलेभर में जांच अभियान चलाकर 18 से अधिक दवा दुकानों के लाइसेंस सस्पेंड किए थे। इसके बावजूद ये मेडिकल स्टोर खुले हुए हैं। बताया जा रहा है कि विभागीय अधिकारियों की मिलीभगत के चलते ही ये मेडिकल स्टोर खुले हुए हैं। वहीं, इनकी जांच करने वाले अधिकारी का भी झज्जर से सिरसा तबादला कर दिया गया। गौरतलब है कि कुछ महीने पूर्व जिले में कई मेडिकल स्टोरों पर जांच की गई थी। इनके पास न तो फार्मासिस्ट मिला और न ही बिल बुक मेंटेन थी। इसमें उच्च अधिकारियों ने रिपोर्ट मिलने के बाद 18 दवा दुकानदारों के लाइसेंस एक महीने के लिए 7 मार्च तक रद्द कर दिए। अब अधिकांश मेडिकल स्टोर नियमों व कानूनों को ताक पर रखते हुए न केवल आम दिनों की तरह खुल रहे हैं बल्कि स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों की कार्यशैली पर सवालिया निशान भी लगा रहे हैं। इस बारे में ड्रग कंट्रोल आफिसर संदीप हुड्डा ने बताया कि आरोपी मेडिकल स्टोरों को विभाग की ओर से सीधे आदेश भेजे गए थे। जैसे ही यह मामला संज्ञान में आया, स्टाफ को भेजकर 8 मेडिकल स्टोरों को बंद करा दिया है। इस मामले में नियमित निरीक्षण होगा। ये लाइसेंस अलग अलग तिथियों के लिए रद्द हुए हैं। यदि किसी ने नियम को तोड़ा तो अगली कार्रवाई होगी।
Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here