झाडिय़ों में पड़ी मिलीं कीमती दवाइयां 

कानपुर। चौबेपुर स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र (सीएचसी) के निकट झाडिय़ों में भारी मात्रा में सरकारी दवाएं मिलने का मामला सामने आया है। इसमें काफी दवाइयों की एक्सपायरी डेट अभी बाकी है। सीएमओ ने मामले की गंभीरता को देखते हुए जांच के आदेश दिए हैं।
गौरतलब है कि कुछ दिन पहले मंधना-बिठूर-गंगा बैराज मार्ग पर बैकुण्ठपुर गांव के पास भारी मात्रा में आयरन की गोलियां फेंकी मिलीं थीं। इस मामले में किसी पर कार्रवाई नहीं हुई। अब चौबेपुर सीएचसी से कुछ दूर हृदयपुर गांव के पास भारी मात्रा में जेंटामाइसिन इंजेक्शन, एलकालाजर सीरज, फोलिक एसिड व पैरासिटामॉल सीरप सहित विटामिन के पैकेट झाडिय़ों में पड़े मिले। रास्ते से गुजर रहे ग्रामीणों की नजर इन पर पड़ी तो इसकी सूचना अधिकारियों को दी। सीएचसी प्रभारी ने जांच में पाया कि इनमें कई दवाओं की एक्सपायरी डेट अभी बची हुई है।
सीएचसी प्रभारी धर्मंद्र सिंह ने बताया कि दवाओं को एकत्र कर बैंच नंबर से स्टॉक का मिलान कराया जा रहा है। एएनएम एवं आशा द्वारा दवाएं फेके जाने की आशंका है। जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी। दवा एक्सपायर होने पर तिथि के 120 दिन के अंदर कंपनी वापस ले लेती हंै। उन्होंने बताया कि निर्धारित अवधि में दवा वापस न लेने पर नष्ट करने का प्रावधान है। दवाओं को खुले में फेंकना और जलाना प्रदूषण नियम की धारा 7 का उल्लंघन है। घटना से नाराज सीएमओ डॉ. अशोक शुक्ला ने एसीएमओ को जांच के आदेश दिए हैं।
Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here