इन 8 दवाओं के सैंपल मिले फेल, नोटिस जारी

सोलन। हिमाचल में बनी 8 दवाओं के सैंपल फिर फेल मिले हैं। केन्द्रीय दवा मानक नियंत्रण संगठन (सीडीएससीओ) ने इस माह का ड्रग अलर्ट जारी किया है। राज्य ड्रग विभाग ने त्वरित कार्रवाई करते हुए 8 उद्योगों को कारण बताओ नोटिस जारी कर दिया है। यही नहीं, विभाग ने इन उद्योगों को बाजार से दवाओं के स्टॉक रिकॉल करने के निर्देश भी जारी कर दिए हैं। जिन दवाओं के सैंपल फेल मिले हैं, उनमें ज्यादातर दवाएं एंटीबायोटिक, फेफड़ों के संक्रमण, एंटी एलर्जी, दर्द, गठिया और विटामिन की हैं। राज्य ड्रग विभाग ने पिछले एक वर्ष से ऐसे उद्योगों के खिलाफ सख्ती कर दी है, जिनकी दवाओं के सैंपल फेल हो रहे हैं। इसी का परिणाम है कि अभी तक विभाग ने 20 उद्योगों के लाइसेंस निलम्बित कर दिए हैं। इसके अलावा 60 उद्योगों को नोटिस जारी किए जा चुके हैं। इसके बावजूद प्रदेश में बनने वाली दवाओं के सैंपल फेल हो रहे हैं।
सीडीएससीओ द्वारा जारी किए ड्रग अलर्ट के अनुसार मैसर्ज एरिस्टो लैबोरेट्रीज मखनुमाजरा की मिकासिन इंजेक्शन 2 एम.एल. का बैच नम्बर बी 02एच 028, ईओन हैल्थकेयर प्राइवेट लिमिटेड बद्दी की कैंडीजोल 15 जी.एम. का बैच नम्बर 08016, मैसर्ज कोरोना रैमेडीज प्राइवेट जटोली की बी29 का बैच नम्बर सीजी 18094, ए.एन.जी. लाइफ साइंस इंडिया किशनपुरा नालागढ़ की सैफटाजीडाइम इंजेक्शन का बैच नम्बर ए 198003 ए, अलाइस हेल्थकेयर बद्दी की एल.फी.-एफ का बैच नम्बर एल.सी.-695, मैसर्ज एन.डी.एच. फार्मास्युटिकल प्राइवेट लिमिटेड पांवटा साहिब की हैक्स फोर्टी सिरप का बैच नम्बर एच.एक्स. एफ. 1801, एस.एम.डी. कैमी फार्मा प्राइवेट लिमिटेड कुम्हारहट्टी सैराटीड-10 का बैच नम्बर एस.एम.डी. -17 के 240 और एक्मे लाइफ साइंस नालागढ़ की डाइक्लाफैंक सोडियम, पैरासिटामोल और क्लोरजोक्सजोन का बैच नम्बर पी.जी.टी. 041562 का सैंपल फेल हुआ है
Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here