बिना लाइसेंस दवा बेचने पर दुकानदार दबोचा

कैथल। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने फतेहपुर की एक दुकान से गर्भपात की किट व नशीली दवाइयां जब्त की हैं। दुकानदार दवाइयों की बिक्री से संबंधित कोई लाइसेंस टीम को नहीं दिखा सका। टीम ने फर्जी दवा विक्रेता को पकड़ कर पूंडरी थाना पुलिस को इसकी शिकायत दी। दुकान से भारी मात्रा में गर्भपात किट और नशीली दवाइयां बरामद हुई। उप सिविल सर्जन डॉ. नीलम कक्कड़ ने बताया कि विभाग को सूचना मिली थी कि फतेहपुर गांव की एक दुकान पर गर्भपात किट बिकती है। सूचना के बाद विभाग ने महिला को नकली ग्राहक के रूप में उक्त दुकान पर भेजा। महिला ने दुकान से गर्भपात किट मांगी। किट के बदले दुकानदार ने महिला से 600 रुपए मांगे। महिला ने 600 रुपए देकर किट ले ली और पहले से तय टीम को इशारा कर दिया।

टीम ने मौके पर जाकर दुकानदार को किट बेचते हुए पकड़ा लिया। किट बेचने के आरोपी दुकानदार ने खुद को फतेहपुर गांव निवासी कमल बताया और कमल किसी भी प्रकार का लाइसेंस टीम को नहीं दिखा सका। टीम ने दुकानदार को दवाइयां बेचने के आरोप में पकड़ लिया और इसकी सूचना पूंडरी थाना पुलिस को दी। टीम ने दुकान की जांच भारी मात्रा में गर्भपात किट और नशीली दवाइयां बरामद की। टीम में उप सिविल सर्जन डॉ. नीलम कक्कड़ के अलावा डॉ. सुनील दहिया ड्रग्स इंस्पेक्टर, कार्यकारी चिकित्सक अधिकारी डॉ. विकास भटनागर, डॉ. गौरव पुनिया शामिल रहे।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here