डीडीटी से बच्चों में ऑटिज्म का खतरा

नई दिल्ली। गर्भवती महिलाओं के रक्त में कीटनाशक डीडीटी की मात्रा अधिक होने से बच्चों में ऑटिज्म का खतरा बढ़ जाता है। फिनलैंड की दस लाख से अधिक गर्भवती महिलाओं पर किए गए शोध में यह जानकारी सामने आई है। डीडीटी और पीसीबी जैसे रसायन को 30 साल पहले अमेरिका और फिनलैंड समेत कई देशों में प्रतिबंधित कर दिया गया था, लेकिन ये दोनों आज भी भोजन श्रृंखला में मौजूद हैं। इसी के चलते इन रसायनों और बच्चों पर उसके असर का पता लगाने के लिए शोध किया गया था। अमेरिका की कोलंबिया यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने 1987 से 2005 के बीच जन्मे बच्चों को अपने शोध में शामिल किया। इनमें से 778 में ऑटिज्म के लक्षण पाए गए थे। शोध के लिए गर्भावस्था के दौरान लिए गए महिलाओं के ब्लड सैंपल में डीडीटी और पीसीबी की मात्र का पता लगाया गया।
Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here