34 करोड़ बच्चों के मारे जाएंगेे पेट के कीड़े

By: मेडीकेयर न्यूज
Feb 10 2017

 नई दिल्ली: आज राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस (नेशनल डीवॉर्मिग डे) है। इस मौके पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के तत्वावधान में देशभर में करीब 34 करोड़ बच्चों को पेट के कीड़े मारने की दवा (एलबेंडाजोल) पिलाई जाएगी। इस अभियान में पहली बार सभी प्राइवेट स्कूलों को भी इसमें शामिल किया गया है।केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव सीके मिश्र के अनुसार कुछ राज्यों में चुनाव अन्य कारणों से अलग तारीख में यह कार्यक्रम चलाया जाएगा। हरियाणा में 15 फरवरी को, उत्तराखंड में 22 को, हिमाचल में 27 को और उत्तर प्रदेश में 28 फरवरी को यह दवा उपलब्ध करवाई जाएगी। इस अभियान को मानव संसाधन विकास (एचआरडी) मंत्रालय और महिला बाल विकास (डब्लूसीडी) मंत्रालय के साथ मिल कर चलाया जाएगा।

अभियान में स्कूलों के साथ ही आंगनबाड़ी को भी शामिल किया गया है। देशभर में खुले में शौच से मुक्ति के लिए भी अलग से अभियान चलाया जा रहा है। इससे भी पेट के कृमि या कीड़ों के मामलों में कमी आएगी। स्वास्थ्य सचिव ने कहा है कि पेट के कृमि मारने वाली दवा एलबेंडाजोल पूरी तरह सुरक्षित है। कुछ मामलों में यह दवा लेने पर घबराहट या दस्त की शिकायत आती है, लेकिन यह बहुत कम समय के लिए होता है। इसी तरह कुछ मामलों में व्यक्ति को हाई इनफैक्शन के संकेत दिखाई देते हैं, लेकिन यह उन्हीं में होता है, जिन पर कृमि का प्रभाव बहुत ज्यादा होता है।




Tags

नेशनल डीवॉर्मिग डे, एलबेंडाजोल दवा, स्वास्थ्य सचिव सीके मिश्र, इनफैक्शन